डिपाजिटरी सेवाएं

निवशकों के ध्याानाकर्षण हेतु:आइपीओ में सब्स।क्राइब करते समय निवेशकों को चेक जारी करने की आवश्यकता नहीं है। आवेदन पत्र में सिर्फ अपना खाता संख्या‍ लिखें और हस्ताशक्षर कर आबंटन हाने की स्थिति में अपने बैंक को भु्गतान करने के लिए प्राधिकृत करें। वापसी की चिंता नहीं क्योंशकि धनराशि निवेशक के खाते में रहेगी।

एएसबीए (एप्ली केशन सपोर्टेड बाय ब्लॉिक्डश एमाउंट) सुविधा

बैंक ने आईपीओ/एफपीओ/राइट इश्यूे के आवेदन की प्रक्रिया में एक अनुपूरक और नई सुविधा एप्लीनकेशन सपोर्टेड बाय ब्लॉयक्ड एमाउंट (एएसबीए) शुरु की हैं जहां पब्लिक इश्यूि हेतु सब्सीक्राइब करते समय आवेदन राशि की सीमा तक निवेशक के बैंक खाते में निधि पर लियन मार्क कर ब्लॉकक किया जाता है। इक्विटी शेयरों का आबंटन होने पर सदृश्ये राशि जारीकर्ता के खाते में विप्रेषित की जाती है और शेष राशि, यदि कोई हो, से लियन हटा दिया जाता है। एएसबीए सुविधा विभिन्न स्थाेनों पर बैंक की सभी शाखाओं के माध्यनम से बचत बैंक/चालू खाताधारकों को प्रदान की जाती है। एएसबीए का भौतिक फॉर्म की लिंक के अंतर्गत एएसबीए ई-फार्म पर क्लिक करके एनएसई/बीएसई की वेबसाइट से प्राप्तअ किया जा सकता है और किसी भी शाखा में प्रस्तुलत किया जा सकता है।

एएसबीए संबंधी बारंबार पूछे जाने वाले प्रश्नों को डाउनलोड करने हेतु यहां क्लिक करें।