img

शिशु मंगल जमा योजना

शिशु मंगल जमा योजना का शुभारंभ पंडित जवाहरलाल नेहरू की जन्म शताब्दी 14 नवम्बर 1988 को हुआ था, यह योजना बच्चों के कल्याण के लिए है।n.

योजना के अंतर्गत, यह खाता अभिभावकता के तहत अवयस्क खाते की शैली में खोला जाएगा। एक पूर्व निर्धारित राशि समय-समय पर उपलब्ध कराए गए चार्ट के अनुसार जमा करनी होगी जो जमाकर्ता के विकल्प पर 6 साल की समाप्ति पर रु.5000 या इसके विभाज्य बढ़ती हुई होगी। हालांकि, 21 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद कोई जमा जारी नहीं रहेगी।

समय-समय पर उपलब्ध कराए गए चार्ट के अनुसार एक निर्धारित राशि जमा की जानी है। तदनुसार, जमाकर्ता को 5000 रूपये की एक परिपक्वता मूल्य के लिए चार्ट में इंगित की गई पूर्व निर्धारित राशि जमा करनी होगी। उच्च गुणकों के लिए परिपक्वता मूल्य जमाराशि के संगत गुणकों को जमाकर्ता द्वारा जमा किया जाना है। इस योजना के तहत निवेश की कोई अधितकम सीमा नहीं है।.

भारत का कोई भी नागरिक जो 1-15 वर्ष से कम आयु का है, इस योजना के अंतर्गत अभिभावकता के तहत यह खाता खुलवा सकता है।

खाता खोलते समय त्रैमासिक आधार पर बैंक द्वारा दिया गया प्रचलित ब्याज, ब्याज दरों पर लागू रहेगा।

  • प्रमाण पत्र अपेक्षित किसी एक की फोटो प्रति
  • पैन कार्ड

  • पासपोर्ट(वैधता विवरण सहित जैसे अंतिम तिथि).

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • वोटर प्रमाण-पत्र

  • केंद्र सरकार एवं इसके विभागों, राज्य सरकार एवं इसके विभागों, वैधानिक/नियामक प्राधिकारी, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों द्वारा जारी फोटो पहचान-पत्र

  • निवास प्रमाण-पत्र: अपेक्षित किसी एक की फोटो प्रति
  • पासपोर्ट

  • वोटर कार्ड

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • बैंक पासबुक/स्टेटमेंट.

  • नवीनतम इलेक्ट्रिकसिटी बिल अथवा टेलेफोन बिल (न्यूनतम तीन माह पुराना)