व्याओपार वित्तय योजना

सभी व्यापारी जो व्यजक्ति, फर्म, कंपनियाँ, सहकारी समितियाँ हैं और किसी विधिसम्मडत व्यावपारिक गतिविधियों से संबद्ध हैं अर्थात् वस्तुवओं और सेवाओं का व्याषपार जो भारिबैं/सरकार द्वारा न तो प्रतिबंधित है और न ही निषिद्ध। जेरॉक्सिंग, ड्राइ क्लीजनिंग, पेट्रोलियम उत्पासदों/एलपीजी की डीलिंग हेतु लाइसेंस, ऑटो सर्विस सेंटर, आईएसडी/एसटीडी पीसीओ बूथ आदि जैसी सेवा प्रदान करनेवाले व्यारवसायिक प्रतिष्ठामन/एजेंसियाँ भी पात्र हैं।
कार्यशील पूंजी अपेक्षाएँ: यूनिट/स्थानपना की दैनिक कार्यशील अपेक्षाओं को पूरा करने हेतु।
मीयादी ऋण: व्यावसाय चलाने हेतु मौजूदा व्यखवसाय परिसर की मरम्मसत, फर्निशिंग, नवीकरण हेतु और/अथवा फर्नीचर एवं फिक्सतचर की खरीद हेतु और ब्रांड नये उपकरण, व्यकवसाय टूल, कंप्यूवटर, यूपीएस आदि की खरीद हेतु अपेक्षित स्वापमित्व। आधार पर परिसरों, गोदामों का अर्जन/निर्माण।

ऋण सुविधाएँ रु.5.00 करोड़ की सीमाओं तक संस्वीहकृत की जाएँगी।

मार्जिन

क) स्टॉ क पर 25%
ख) केवल 90 दिनों तक प्राप्य राशियों पर 30%
ग) उपकरणों, टूल्स , फर्नीचर और फिक्स3चर, कंप्यूीटर हार्डवेयर आदि हेतु संस्वीरक(त मीयादी ऋण पर 25%
घ) परिसर के अर्जन/निर्माण हेतु संस्वीडक(त मीयादी ऋण पर 50% ङ) साख पत्र/बैंक गारंटी हेतु 20% नकद

  • स्थायनीय विधियों (अर्थात् दुकान और स्थाकपना अधिनियम)/समुचित प्राधिकरण के अंतर्गत यथाप्रयोज्यी पंजीकरण/लाइसेंसवाले व्या पारी/व्या)वसायिक प्रतिष्ठाेन।
  • प्रस्तालवक को अधिमानत: कम-से-कम एक संपूर्ण वित्तीकय वर्ष हेतु व्यावसाय मंं होना चाहिए जिसके लिए आयकर विवरणियाँ प्रस्तुथत की गयी हो और साथ ही संस्वीाकृति प्राधिकारी को स्वी्कार्य सनदी लेखाकारों की फर्म द्वारा विधिवत प्रमाणित वित्तीृय परिणामों का विवरण अथवा वित्तीनय विवरण प्रस्तुवत किये गये हों। यूनिट लाभ में होनी चाहिए।
  • सभी बैंक मित्र केन्द्रों पर ऑन-अस और ऑफ-अस लेनदेनों हेतु आधार समर्थित भुगतान प्रणाली(एईपीएस) तथा रुपे एटीएम कार्ड की स्वीअकार्यता को पासबुक प्रिंटिंग सुविधा सहित अनिवार्य बनाया गया है जिससे लेनदेन की लागत, मुद्रण और लेखन सामग्री आदि की लागत में तथा ब्रिक और मोर्टार शाखाओं की स्थाेपना में होनेवाले पूंजीगत व्यऔय में कटौती होगी और साथ ही परिचालन जोखिम भी कम होगा क्योंहकि निधियों का अंतरण या तो आधार के माध्याम से या कार्ड आधारित होता है।
  • नयी पहल योजना के अंतर्गत, बैंक मित्र केन्द्रों में पासबुक मुद्रण सुविध अंतिम चरण में है। इससे मुद्रण और लेखन सामग्री आदि की लागत में कटौती होगी और कोई पूंजीगत लागत भी नहीं आएगी क्योंीकि प्रिंटर बैंक मित्र द्वारा खरीदा जाएगा।
  • शाखाओं में प्रति दिन एसबी खाते खोलने में वृद्धि और जमा लागत में कटौती हेतु बैंक मित्र केन्द्रों में पीएमजेडीवाई/सामान्य खाते ऑनलाइन खोलना।
  • बैंक मित्र केन्द्रों में आरडी/एफडी खाते खोलने का कार्य आरंभ हो गया है।

स्टॉाक, बही ऋण और अन्यए चालू आस्तियों पर अनन्यक दृष्टिबंधन प्रभार और यूनिट की सभी स्थिर आस्तियों यथा उपकरणों, व्य वसाय टूल्सअ, कंप्यू्टर, फर्नीचर और फिक्सीचर आदि पर अनन्यक दृष्टिबंधन प्रभार। स्वा मित्वब आधार पर परिसर के अर्जन/निर्माण हेतु संस्वीोकृत ऋण की स्थिति में संपत्ति बैंक के बंधक मेन्युआअल के अनुसार बैंक के पक्ष में बंधक रखी जानी चाहिए।
संपार्श्विक: मौजूदा यूनिटों हेतु: एनएससी, एलआईपी(अभ्य‍र्पण मूल्ये) अथवा अन्यव मूर्त प्रतिभूति के रूप में संपार्श्विक प्रतिभूति जिसका वसूली योग्यत मूल्यि कुल एक्स्पोजर के कम-से-कम 75% के समतुल्यो होना चाहिए। नयी युनिटों हेतु: एनएससी, एलआईपी(अभ्य7र्पण मूल्यस) अथवा अन्य मूर्त प्रतिभूति के रूप में संपार्श्विक प्रतिभूति जिसका वसूली योग्यभ मूल्यप कुल एक्सतपोजर के कम-से-कम 100% के समतुल्यप होना चाहिए। गारंटी: साझेदारी फर्मों के मामले में, सभी साझेदारों की व्यिक्तिगत गारंटी। प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों हेतु सभी प्रवर्तक निदेशकों की व्य्क्तिगत गारंटी अपेक्षित है। पब्लिक लिमिटेड कंपनियों हेतु, कम-से-कम एक प्रवर्तक निदेशक और/अथवा व्यलवसाय में बहुलांश वित्तीकय हितवाले निदेशकों में से किसी एक निदेशक की व्यथक्तिगत गारंटी अपेक्षित है।

मीयादी ऋण: नकदी प्रवाह और उपकरण की प्रभावी अवधि के आधार पर अधिस्‍थगन सहित अधिकतम 84 माह
अप्रलेखी मीयादी ऋण: नकदी प्रवाह के आधार पर अधिकतम 3 वर्ष की अवधि
कार्यशील पूंजी: प्रति वर्ष समीक्षा के अध्य धीन माँग पर
एलसी/गारंटी: प्रति वर्ष समीक्षा के अध्यकधीन कार्यशील पूंजी सीमा के भाग के रूप में

ब्यायज दर

ब्याकज दर उधारकर्ता के प्रोफाइल पर निर्भर करती है और खाते की जोखिम रेटिंग के अनुसार मासिक अंतराल पर आधार दर से बीआर+ 5.00% के बीच है (विवरण हेतु होम पेज में “इंटरेस्ट रेट” पर क्लिक करें।

प्रोसेसिंग शुल्क‍

रु.228/- प्रति लाख न्यू नतम रु.2029/-, अधिकतम रु.22828/-

पूर्व भुगतान दंड

टेक ओवर के मामले में मीयादी ऋण के बकाया शेष का 2.28%