सॉवरेन गोल्डॉ बॉण्ड् योजना

    इसके बारे में

  • सॉवरेन गोल्डॉ बॉण्ड् भारत सरकार की ओर से भारिबैं द्वारा रुपये के भुगतान पर स्व र्ण के ग्राम मूल्यावर्ग पर जारी किया जाता है।
  • पात्रता

  • बॉण्डै भारत में निवासी किसी व्यकक्ति द्वारा रखा जा सकता है (व्याक्ति/अवयस्कत बच्चेर के लिए या उसकी ओर से/किसी अन्य व्यवक्ति के साथ संयुक्तव रूप से)
  • बॉण्डै ट्रस्टय, धमार्थ संस्थाा और विश्व विद्यालय द्वारा भी रखा जा सकता है।
  • बॉण्ड में न्यू नतम निवेश प्रति वित्ती य वर्ष (अप्रैल-मार्च) एक ग्राम है और व्यतक्तियों हेतु अधिकतम सीमा 4 किग्रा, हिंदू अविभक्ति परिवार (एचयूएफ) हेतु 4 किग्रा, और ट्रस्टा तथा सरकार द्वारा अधिसूचित इसी प्रकार की संस्थािओं हेतु 20 किग्रा है।
  • लाभ

  • बॉण्ड डीमेट और पेपर फ़ॉर्म दोनों में उपलब्धत है।
  • बॉण्ड में आरंभिक निवेश की राशि पर 2.50 प्रतिशत (स्थिर दर) प्रतिवर्ष की दर से ब्यािज लगेगा।
  • बॉण्ड का प्रयोग ऋण हेतु संपार्श्विक के रूप में किया जा सकता है।
  • बॉण्ड , स्वोर्ण बॉण्ड जारी करने की तिथि से आठ वर्ष की समाप्ति पर अदा किया जाएगा।
  • बॉण्ड के परिपक्वऋता-पूर्व निर्मोचन की अनुमति निर्गम की तिथि के पाँचवें वर्ष से ब्यााज भुगतान तिथियों पर होगी।

 

  • नोट: योजना में अद्यतन अनुदेशों/आशोधनों हेतु कृपया www.rbi.org.in देखें।